• Menu
  • Menu

नया रायपुर में स्थित पुरखौती मुक्तांगन के बारे में जानें

Purkhouti Muktangan Raipur: छत्तीसगढ़ के राजधानी नया रायपुर में स्थित पुरखौती मुक्तांगन एक ऐसा खुला संग्रहालय है जिसमें छत्तीसगढ़ के आदिवासी संस्कृति, पर्यटन स्थल इत्यादि को बहुत ही खूबसूरती के साथ प्रदर्शित किया गया है। अगर आप कम समय में छत्तीसगढ़ के समृध आदिवासी संस्कृति, लोककला, ग्राम जीवन, प्रमुख पर्यटन स्थल इत्यादि के दर्शन करना या उनके बारे में जानना चाहते हैं तो आपको पुरखौती मुक्तांगन अवश्य जाना चाहिए।

यह संग्रहालय उन पर्यटकों के लिए किसी खजाने से कम नही जो छत्तीसगढ़ के जनजातियों के लोकनृत्य, लोककला, उनके जीवनशैली को करीब से देखना चाहते हैं। अगर आप छत्तीसगढ़ करीब से जानना चाहते हैं तो एक बार जरुर जाएँ

पुरखौती मुक्तांगन का मुख्य द्वार
Purkhouti Muktangan Main Gate

पुरखौती मुक्तांगन

पुरखौती मुक्तांगन नया रायपुर में स्थित एक संग्राहलय है जो लगभग 200 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है, इसका उद्घाटन वर्ष 2006 में माननीय एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था। इस जीवंत संग्राहलय में छत्तीसगढ़ की जनजातीय संस्कृति, कलात्मक, प्राकृतिक संरचना, पर्यटन स्थल के मॉडल है जिन्हें बेहतरीन ढंग से प्रदर्शित गया है जो । यह संग्राहलय हर तरह से सांस्कृतिक जागरूकता का एक बेहतरीन उदहारण है।

यह छत्तीसगढ़ राज्य में निवास करने वाली जनजातियों की समृद्ध संस्कृति और विरासत को बेहतर ढंग से समझने और बच्चों इनके बारे में ज्ञान प्रदान करने के लिए एक बेहतर स्थान है। पुरखौती मुक्तांगन संग्रहालय खूबसूरत और  शैक्षिक पर्यटन स्थल है जहाँ आप अपने दोस्तों और परिवार के साथ जा सकते हैं, जाने के बाद आपको छत्तीसगढ़ के बारे में काफी कुछ जानने को मिलेगा।

इस संग्राहलय में आपको कई सारे बड़े बड़े प्रतिमाएँ और छत्तीसगढ़ के पर्यटन स्थलों के मॉडल देखने को मिलेंगे जैसे भोरमदेव मंदिर, दंतेश्वरी मंदिर, बस्तर का चित्रकोट जलप्रपात, ढोलकल मंदिर, कई तरह के लोक नृत्य मॉडल इत्यादि।

गेड़ी नृत्य का मॉडल

टाइमिंग और टिकट की कीमत

अगर आप कभी इस संग्राहलय को देखने जाने का मन बनाते हैं तो आपको नीचे दिए गए जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं।

  • 12 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए टिकट की कीमत 30 रूपये है
  • 03 से 12 वर्ष के बच्चों के लिए टिकट की कीमत 20 रूपये है
  • यह संग्राहलय हर सोमवार को बंद रहता हैं।

पुरखौती मुक्तांगन का फोटो


पुरखौती मुक्तांगन कैसे जायें

यह रायपुर शहर से लगभग 20 किलोमीटर दूर ग्राम उपरवारा में स्थित है। यह लगभग है। आप अपने वाहन या टैक्सी बुक करके आसानी से पहुंच सकते हैं

  • निकटतम बस स्टैंड : रायपुर बस स्टैंड
  • निकटतम रेलवे स्टेशन : रायपुर रेलवे स्टेशन। यह स्टेशन से लगभग 26.5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।
  • निकटतम हवाई अड्डा : स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट। रायपुर हवाई अड्डा से 13 .5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

Places To Visit Near Purkhouti Muktangan

महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय –भारत के सबसे पुराने संग्रहालय में से एक है इस संग्रहालय में आपको प्राचीन मूर्तियां, शिलालेख, बौद्ध कांस्य, कपड़े गहने इत्यादि है साथ ही यहां आपको कला, विज्ञान, धर्म, साहित्य, दर्शन इत्यादि से संबंधित पुस्तकों का समृद्ध संग्रह देखने को मिलेगा।

जंगल सफारी रायपुर – यह सफारी रायपुर के बीच में स्थित है जो 800 एकड़ में फैला हुआ है, यह एशिया का एक मात्र मानव निर्मित जंगल सफारी है। यहां रॉयल बंगाल टाइगर, व्हाइट टाइगर, एशियन लायन, नीलगाय, काला हिरण, घड़ियाल और अन्य वन्य जीवों को पर्यटक आसानी से देख सकते हैं।

सवाल जवाब

जब भी हम कभी किसी पर्यटन स्थल जाते हैं तो उस स्थल से सम्बंधित कई सवाल हमारे मन में होते हैं इसलिए हमने कुछ सामान्य सवालों के जवाब नीचे दिए हैं जो आपके लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं।

पुरखौती मुक्तांगन प्रवेश शुल्क कितना है?

03 से 12 वर्ष के बच्चों के लिए 20 रूपये
12 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए 30 रूपये

क्या हर सोमवार को पुरखौती मुक्तांगन बंद रहता है?

हाँ ! पुरखौती मुक्तांगन हर सोमवार को बंद रहता है।

क्या यह बच्चों के लिए अच्छी जगह है?

जी हाँ ! यह स्थान बच्चों के लिए बहुत अच्छा स्थल है।

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 comment